मध्य प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नृत्य

आज हम इस पोस्ट मैं मध्य प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नृत्य के बारे में जानेंगे

आपको पता है कि मध्य प्रदेश में अनेक जनजातियां निवास करती हैं और सबका अपना-अपना वेशभूषा रहन-सहन खानपान एवं बोली भाषा अलग-अलग है इसी प्रकार मध्य प्रदेश के आदिवासियों का नृत्य भी अलग है।

तो इस पोस्ट में हम मध्य प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नृत्य के बारे में जानेंगे कि उनका नृत्य कौन सा है और वह नृत्य किस क्षेत्र से संबंधित है।

मध्य प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नृत्य
मध्य प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नृत्य

मध्य प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नृत्य

म. प्र. प्रमुख आदिवासी नृत्य क्षेत्र संबंधी आदिवासी
करमा नृत्य मंडला
भगोरिया नृत्य झाबुआ, अलीराजपुर
सुआ मैकल श्रेणी में
गरबा डांडिया निमाड़ के बंजारे
दादर बघेलखंड
रागिनी ग्वालियर
परधौनी नृत्य बैगा आदिवासी
दशहरा नृत्य बैगा आदिवासी
टीना गौड़
हुलकी नृत्य मुरिया आदिवासी
थापटी नृत्य कोरकु
सैला नृत्य यह शुद्धतः जनजातियों का नृत्य है
अटारी नृत्य भूमिया बैगा
बिनाकी भोपाल कृषकों द्वारा
ढाढ़ल नृत्य कोर कु आदिवासी
भड़म नृत्य भारिया जनजाति
गोचो गौड़
शैतम नृत्य भारिया महिलाओं का नृत्य है
रीना गौड़
गेड़ी गौड़
मटकी मालवा
चटकोरा कोरकु
सरहुल नृत्य उराव जनजाति
विल्मा बैगा
छेरता मुड़िया
कर्मा नृत्य यह आदिवासियों का प्रमुख नृत्य है
मध्य प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नृत्य

मध्य प्रदेश के अन्य सामान्य ज्ञान पढ़ें

⇒ मध्य प्रदेश के राजकीय प्रतीक चिन्ह – Madhya Pradesh ke Raajakeey Chinh

⇒ मध्य प्रदेश की खेल एकेडमी | Sports Academy in Madhya Pradesh

⇒ मध्य प्रदेश के प्रमुख दर्शनीय स्थल (Madhya Pradesh ke Pramukh darshaniy sthal)

⇒ मध्य प्रदेश के पार्क (Madhya Pradesh Ke Park)

⇒ म.प्र. के संग्रहालय (Museum of MP)

⇒ म.प्र. की प्रमुख गुफाएं (Mp Ki Gufa)

 

We provide insights on diverse topics including Education, MP GK, Government Schemes, Hindi Grammar, Internet Tips and more. Visit our website for valuable information delivered in your favorite language – Hindi. Join us to stay informed and entertained.

Sharing Is Caring:

Leave a Comment