मध्यप्रदेश के प्रमुख संग्रहालय | Madhyapradesh ke Pramukh Sangrahaalay

अगर आप मध्यप्रदेश के प्रमुख संग्रहालय के नाम और स्थान के बारे में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा पढें क्योंकि इस पोस्ट में हम मध्यप्रदेश के संग्रहालय व स्थान शेयर कर रहे हैं।

यदि आप मध्यप्रदेश राज्य के किसी भी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो यह जानकारी आपके लिए बहुत हेल्पफुल हो सकता है।

20210325 144401 1
मध्यप्रदेश के प्रमुख संग्रहालय

मध्यप्रदेश के प्रमुख संग्रहालय

क्रमांकसंग्रहालयस्थान
1.इंदिरा गांधी मानव संग्रहालयभोपाल
2.मध्यप्रदेश राज्य संग्रहालय (एडवर्ड म्यूज़ियम)भोपाल
3.केंद्रीय पुरातत्व संग्रहालयभोपाल
4.रामायण कला संग्रहालयओरछा
5.महाराजा छत्रसाल शासकीय संग्रहालयछतरपुर,धुवेला
6.पुरातत्व संग्रहालयछतरपुर
7.केंद्रीय पुरातत्व संग्रहालयसांची, ग्वालियर
8.दूर संचार, संग्रहालयभोपाल
9.शाश्कीय जिला पुरातत्व संग्रहालयविदिशा
10.रीवा महाराजा संग्रहालयरीवा
11.सिंधिया संग्रहालयग्वालियर
12.बिड़ला संग्रहालयभोपाल
13.यशोवर्धन संग्रहालयमंदसौर
14.देवी अहिल्या बाई संग्रहालयमहेश्वर, खरगोन
15.गूजरी महल संग्रहालयग्वालियर
16.रामायण संग्रहालयओरछा
17.रानी दुर्गावती संग्रहालयजबलपुर
18.तुलसी संग्रहालयरामवन, सतना
19.माधवराव स्प्रे पत्रकारिता संग्रहालयभोपाल
20.जीवाश्म अवशेष संग्रहालयडिंडोरी
21.श्री बादल भोई राज्य जनजातीय संग्रहालयछिंदवाड़ा
22.दुष्यंत कुमार पांडुलिपि संग्रहालयभोपाल
23.राजा मृगेंद्र संग्रहालयशहडोल
24.श्री उमराव सिंह नावेल्स संग्रहालयइंदौर
25.श्री महेश चौबे संग्रहालयजबलपुर
26.महाराजा सीताभाऊ संग्रहालयजबलपुर
27.जैन कॉलेज संग्रहालयविदिशा
28.जैन संग्रहालय जयसिंहपूराउज्जैन
मध्यप्रदेश के प्रमुख संग्रहालय
29.डॉ अरे नाथू संग्रहालयइंदौर
30.पैलेस संग्रहालयगोविंदपुर (रीवा)
31.श्री पदम सिंह संग्रहालयइंदौर
32.आदिवासी कला संग्रहालयखजुराहो
मध्यप्रदेश के प्रमुख संग्रहालय

Madhyapradesh ke Pramukh Sangrahaalay

मध्यप्रदेश राज्य संग्रहालय

मध्य प्रदेश राज्य संग्रहालय भोपाल में स्थित है जिसे पहले एडवर्ड संग्रहालय के नाम से भी जाना जाता था इस संग्रहालय की स्थापना वर्ष 1909 में सुल्तान जहां बेगम द्वारा एडवर्ड संग्रहालय के नाम से की गई थी इस संग्रहालय में प्रदेश की कला और संस्कृति का बेहतरीन समावेश किया गया है।

महाराजा छत्रसाल संग्रहालय

महाराजा छत्रसाल संग्रहालय मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के धुबेला गांव में स्थित है इस संग्रहालय में बुंदेलखंड एवं बघेलखंड की पूरासामग्री सुरक्षित है और महाराजा छत्रसाल संग्रहालय का उद्घाटन 12 सितंबर 1955 में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू जी के द्वारा किया गया था।

रानी दुर्गावती संग्रहालय

रानी दुर्गावती संग्रहालय मध्य प्रदेश की सांस्कृतिक राजधानी जबलपुर में स्थित है और रानी दुर्गावती संग्रहालय की स्थापना वर्ष 1976 में की गई थी यहां पर कलचुरी और गॉड राज्य की पूरा सामग्री सुरक्षित की गई है।

रामायण कला संग्रहालय

रामायण कला संग्रहालय मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले में स्थित है जो कि यह भारत का पहला रामायण कला संग्रहालय है और इस संग्रहालय की स्थापना 17 अप्रैल 2005 में की गई थी।

जहांगीर महल संग्रहालय

जहांगीर महल संग्रहालय मध्यप्रदेश के निवाड़ी जिले के ओरछा में स्थित है यहां पर पाषाण प्रतिमाओ, सती, स्तंभ, शिलालेखों का अनोखा संग्रह किया गया है।

तुलसी संग्रहालय

तुलसी संग्रहालय मध्य प्रदेश के सतना जिले के चित्रकूट में है और इस संग्रहालय को पहले राम वन आश्रम के नाम से जाना जाता था इसमें भरहुत स्तूप गुप्तकालीन एवं जैन धर्म से संबंधित पुरातात्विक सामग्रियों का संरक्षण किया जाता है।

गुजरी महल संग्रहालय

गुजरी महल संग्रहालय मध्य प्रदेश के ग्वालियर में स्थित है इस महल को राजा मानसिंह तोमर ने गुर्जर रानी रागनी के लिए बनवाया था इस महल को मृगनैनी महल संग्रहालय के नाम से भी जाना जाता है।

यशोवर्धन संग्रहालय

यशोवर्धन संग्रहालय मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में स्थित है यहां पर शैव, वैष्णव देवी, जैन संप्रदाय से संबंधित प्रतिमाओं का संग्रह किया जाता है।

जीवाजी राव सिंधिया संग्रहालय

18 सो 74 में जयाजीराव सिंधिया ने ग्वालियर में जयविलास महल का निर्माण करवाया इस महल का आधा भाग जीवाजी राव सिंधिया संग्रहालय के नाम से जाना जाता है जय विलास महल में कुल 400 कमरे हैं जिसमें 40 कमरे म्यूजियम के तौर पर रखे गए और बाकी महल को सिंधिया निवास के नाम से जाना जाता है जय महल विलास या जीवाजी राव सिंधिया संग्रहालय के वास्तुकार माइकल फिलोज था।

देवी अहिल्या पुरातत्व संग्रहालय

यह संग्रहालय खरगोन जिले के महेश्वर में स्थित है यहां देवी अहिल्या बाई ने महेश्वर में अहिल्या घाट का निर्माण करवाया था।

बादल भोई आदिवासी संग्रहालय

वर्ष 1954 में ट्राईबल म्यूजियम छिंदवाड़ा मैं स्थापना की गई थी और वर्ष 1997 में नाम बदलकर बादल भाई आदिवासी संग्रहालय कर दिया गया इस संग्रहालय में भारिया जनजाति से संबंधित संपूर्ण विवरण प्रदर्शित एवं देखने को मिलता है।

मध्यप्रदेश जनजातीय संग्रहालय

मध्यप्रदेश जनजातीय संग्रहालय भोपाल में स्थित है और इस संग्रहालय की स्थापना 6 जून 2013 में की गई थी और इस संग्रहालय को मध्यप्रदेश शासन संस्कृति विभाग द्वारा संचालित किया जा रहा है।

रीवा महाराजा संग्रहालय

यह संग्रहालय रीवा में है और इस संग्रहालय का अन्य नाम वेंकट भवन है इसमें बघेल वंश से संबंधित सामग्रियों का संग्रह है।

कृष्णा राज कपूर ऑडिटोरियम

यह कृष्णा राज कपूर ऑडिटोरियम मध्य प्रदेश के रीवा में स्थित है इस ऑडिटोरियम की स्थापना वर्ष 2018 में की गई थी यहां पर फिल्मी दुनिया के शो मैन कहे जाने वाले अभिनेता राज कपूर का विवाह वर्ष 1946 में रीवा की कृष्णा मल्होत्रा से हुआ था।

बघेल संग्रहालय

यह संग्रहालय मध्यप्रदेश के उमरिया जिले के बांधवगढ़ में स्थित है और यहां पर रीवा सियासत के इतिहास की जानकारी मिलती है इसमें रीवा महाराजा से जुड़ी चीजों को सुरक्षित रखा गया है इससे पहले शाही महल के नाम से भी जाना जाता था।

मुझे उम्मीद है कि आपको इस लेख में मध्यप्रदेश के संग्रहालय के बारे में जानकारी प्राप्त हुआ होगा ऐसे ही मध्य प्रदेश से संबंधित सामान्य ज्ञान पाने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कीजिए

इन्हें पढें:-

We provide insights on diverse topics including Education, MP GK, Government Schemes, Hindi Grammar, Internet Tips and more. Visit our website for valuable information delivered in your favorite language – Hindi. Join us to stay informed and entertained.

Sharing Is Caring:

Leave a Comment